गुरुवार, 15 नवम्बर 2018

माननीय सफेदपोश

2010 और 12 के राज्यसभा चुनाव की सीबीआई जांच होगी
रांची: मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने 2010 और 2012 में राज्य में सम्पन्न राज्यसभा चुनाव से संबंधित मामले को केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को स्थानान्तरित करने का आदेश दिया है. फिलहाल इस मामले को निगरानी जांच चल रही थी. 2010 में हार्स-ट्रेडिंग की शिकायत मिलने पर निर्वाचन आयोग ने मामले को गंभीरता से लिया था और राज्य के मुख्य सचिव व राज्य निर्वाचन अधिकारी को मामले की छानबीन का आदेश दिया था. इसके बाद राज्य सरकार ने मामले की छानबीन की जिम्मेवारी निगरानी ब्यूरो को सौंप दी थी. गौरतलब है कि इस मामले में एक निजी टीवी चैनल के स्टिंग आपरेशन में कांग्रेस, बीजेपी और झामुमो के कुछ विधायकों का नाम भी सामने आया था. निगरानी ब्यूरो द्वारा मामले की अब भी छानबीन की जा रही है, वहीं इस मामले की मानिटरिंग उच्च न्यायालय द्वारा भी किया जा रहा है. उल्लेखनीय है कि वर्ष 2010 के राज्यसभा चुनाव में केडी सिंह और धीरज साहू निर्वाचित हुए थे, जबकि इस साल 30 मार्च को राज्यसभा की दो सीटों के लिए हुए मतदान के बाद चुनाव आयोग ने मतगणना पर रोक लगा दी थी और मामले की जांच सीबीआई से कराने का आदेश दिया था.
और भी...
मधु कोड़ा को थोड़ी राहत, एक मामले में मिली जमानत
पिछले 28 महीने से जेल में बंद झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और निर्दलीय सांसद मधु कोड़ा को झारखंड उच्च न्यायालय से एक मामले में जमानत मिल गयी है.
और भी...
टाट्रा ट्रक सौदे मामले में नप सकते हैं रक्षा मंत्री एंटनी!
टाट्रा ट्रक सौदे के मामले में रक्षा मंत्री एके एंटनी भी नप सकते हैं. ट्राटा सौदे के मामले में दो साल तक कार्रवाई नहीं करने पर एंटनी को कारण बताना होगा.
और भी...
बीजेपी के एक नेता ने दिया शादी का झांसा, करता रहा शारीरिक शोषण
बीजेपी के एक नेता पर गंभीर आरोप लगा है. सुमित्रा कुई ने भारतीय जनता पार्टी के किसान मोर्चा के नोवामुंडी प्रखंड अध्यक्ष बृजलाल दास पर शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने का आरोप लगाया है.
और भी...
पुलिस वालों ने दिखाई विधायक पर दबंगई
रांची के बिरसा चौक गेट के नजदीक विधायक से हाथापाई की घटना हुई है. कल पुलिस ने बीजेपी विधायक उमाशंकर अकेला की पिटाई का मामला है. खबर के अनुसार बिरसा चौक पर जेपी आंदोलनकारी धरना दे रहे थे. धरने पर बैठे पूर्व एमएलसी गौतम सागर राणा ने विधायक
और भी...